Trafficking is an organized crime and Trafficking Victims

Trafficking is an organized crime and Trafficking Victims

Trafficking is an organized crime ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध।

मनुष्यों की ट्रैफिकिंग एक ऐसा अपराध है जिसमें अनेक अपराध शामिल है। यह अपराधों का टुकड़ा है इस टुकड़े से इन अपराधों के तत्व खोज निकाले जा सकते हैं।

व्याकरण अपहरण किडनैपिंग गैर कानूनी ढंग से रोक कर रखना, गैरकानूनी ढंग से अवरुद्ध करना, आपराधिक ढंग से डराना, चोट पहुंचाना, और यौन हमला, लज्जाभंग बलात्कार, प्रकृति विरुद्ध,

अपराध मनुष्यों की खरीद बिक्री, दास बनाकर रखना, आपराधिक षड्यंत्र, दुष्प्रेरित करना, यानि (अब एडमिन इत्यादि) इसलिए

Trafficking is an organized crime ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध।

Trafficking is an organized crime and Trafficking Victims

विभिन्न स्थानों और समय पर किए गए कई प्रकार के दुरुपयोग और दुरुपयोग करता मिलकर ट्रैफिकिंग के संगठित अपराध का निर्माण करते हैं। मानव अधिकारों के कई उल्लंघन जैसे प्राइवेसी को भंग करना, न्याय से वंचित करना न्याय तक पहुंच से वंचित करना,

मौलिक अधिकारों तथा प्रतिष्ठा का हनन करना इत्यादि। शोषण के अन्य हिस्से हैं अतएव इसमें कोई संदेह नहीं है कि ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध है।

Trafficking is an organized crime ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध।

ट्रैफिकिंग का शिकार व्यक्ति
आईटीपीए [खासकर धारा 5] तथा संबंधित कानूनों के संदर्भ में ट्रैफिक किया हुआ व्यक्ति किसी भी उम्र का ऐसा पुरुष या स्त्री हो सकता है। जिसे c a 100 के लिए वेश्यालय या किसी ऐसे स्थान पर लाया गया हो जहां सीएससी होता है। आई टी पी ए के अनुसार किसी व्यक्ति को ट्रैफिक करने का प्रयत्न भी दंडनीय है। अतः किसी व्यक्ति की भौतिक रूप से ट्रैफिकिंग होने के पहले ही इस कानून को लागू होना शुरू हो जाता है।

Trafficking is an organized crime ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध।

बाल
बाल वह व्यक्ति है जिसकी उम्र 18 वर्ष से कम है कोई भी बाल जिसकी ट्रैफिकिंग होने की आशंका है। द जुवेनाइल (जस्टिस केयर एंड प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन) एक्ट 2000 के तहत ऐसा व्यक्ति है। जिसे देख भाल और संरक्षण की जरूरत है

Trafficking is an organized crime ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध।

कानून का प्रवर्तन करने वाली एजेंसियों का यह वैधानिक कर्तव्य है। कि वह ऐसे बालक बालिकाओं को आजाद कराएं उन्हें बाल कल्याण समिति के सामने पेश करें और उसकी पूरी देखभाल करें



Trafficking is an organized crime and Trafficking Victims

Trafficking in humans is a crime that involves many crimes. It is a piece of the crime. Elements of these crimes can be traced from this piece.

Grammatical abduction, kidnapping illegal, inhibit, illegally blocking, criminal intimidation, injuries, and sexual assault, shame, rape, nature vs. crime, a sale of human beings, slave-making, criminal conspiracy, misbehavior, I.e.

(now admin etc.), so many types of misuse and abuse done at different places and times, together with organized traffic Build Parathas.

Trafficking is an organized crime and Trafficking Victims

Trafficking is an organized crime ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध।

Many violations of human rights such as breach of privacy, deprivation of justice, access to justice, denial of fundamental rights and prestige etc.

There are other sections of exploitation and therefore there is no doubt that traffic is an organized crime.

Trafficking is an organized crime and Trafficking Victims

Trafficking Victims
In the context of ITPA [especially Section 5] and related laws, the person trafficked can be such a man or a woman of any age.

Trafficking is an organized crime ट्रैफिकिंग एक संगठित अपराध।

Which has been brought to the brothel or a place where the CSC is for a 100. According to ITPA, an attempt to traffic a person is also punishable.

So this law begins to apply before any person is physically trafficking.

hair
A child is a person whose age is below 18 years of age, any child who is likely to be trafficking. Such a person is a person under the Juvenile Justice (Justice Care and Protection of Children) Act 2000.

This is the statutory duty of law enforcement agencies who need care and protection. That they should liberate such child girls to them before the child welfare committee and take care of them

 

more post….

Top 10 Interesting Facts About Gemstones In Hindi

Salman Khan latest interview 2018 kyo Kyon Nahin Karate Vilen Rol Ple

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *